अंजीर के फायदे – Anjeer Ke Fayde

अंजीर के फायदे जानकर आप हैरान रह जायेंगे। इस छोटे से फल में इतने अनगिनत गुण हैं जितने आप सोच भी नहीं सकते। अंजीर का ताज़ा फल भी खाया जाता है और इसे सूखे मेवे के रूप में भी प्रयोग कर सकते हैं। कुछ लोग इसे दूध के साथ भी लेना पसंद करते है। अंजीर हर उम्र के लोगों के लिए फ़ायदेमंद है। छोटे बच्चों को तो अंजीर विशेष रूप से देना चाहिए, क्योंकि ये हड्डियों को मज़बूती देता है और पेट की कई सारी समस्याएँ भी दूर करता है। अंजीर उन औरतों के लिए भी फायदेमंद है जो माँ बनने की तैयारी कर रही हैं, क्योंकि इसमें ओमेगा 3 भरपूर मात्रा में पाया जाता है। बड़ी उम्र के लोगों को अंजीर ज़रूर सेवन करना चाहिए। अंजीर हृदय संबंधी और मधुमेह जैसी बीमारियों में लाभकारी है। आइए, हम आपको अंजीर के कुछ और फायदे बताते हैं, जो आपके बेहद काम आ सकते हैं।

अंजीर से पूरी होती है शारीरिक कमज़ोरी और यौन शक्ति की कमी

जो लोग यौन शक्ति की कमी और शारीरिक थकावट महसूस करते हैं, उन्हें अंजीर का सेवन नियमित रूप से खाने में करना चाहिए। लेकिन इसे उपयोग में लाने के लिए सूखे अंजीर को उबालकर उसका पानी छान लें। पूरी तरह पानी से सुखाकर अंजीर को काजू, बादाम, पिस्ता, शक्कर व केसर के साथ देशी घी में मिला कर रख लें। अगर देशी गाय का घी प्रयोग करेंगे तो ज़्यादा अच्छा है। इस मिश्रण को दूध के साथ लेने से लाभ मिलता है। आयुर्वेद के अनुसार यौन-शक्ति को लेकर अंजीर के फायदे चमत्कारी हैं।

यह भी पढ़ें – हल्दी के फायदे

दिल के रोगियों के लिए विशेष लाभकारी है अंजीर

अंजीर दिल के मरीज़ों के लिए रामबाण इलाज है। यह उन्हें कई तरह से फ़ायदा पहुँचाता है, क्योंकि इसमें ओमेगा 3 और 6 फैटी एसिड्स मौजूद होते हैं जो हृदय की नलियों को सुचारु रूप से चलने में मदद करते हैं। यही नहीं, यह कोलस्ट्रोल को भी नियन्त्रण में रखता है। और अगर आपको हाइपरटेन्श की समस्या है तो अंजीर को सूखा कर खाएँ। इसके अंदर काफ़ी पोटेशियम होता है, जो ब्लड प्रेशर घटाने में सहायक है और सोडियम की मात्रा भी कम पाई जाती है।

बच्चों के लिए सेहत का ख़ज़ाना

क्या आप जानते है कि अंजीर में कॉपर, क्लोरीन और सल्फर जैसे खनिज अच्छी मात्रा में होते हैं, जो बच्चों के स्वास्थ्य के लिए काफ़ी लाभदायक हैं। अंजीर के फल में डाएटरी फ़ाइबर भी ख़ूब है। बच्चों में विशेष रूप से डाएटरी फाइबर की कमी होती है और इसमें ए, बी और सी विटामिन भी मिलते हैं। तभी तो बच्चे इसके सेवन से साल भर सेहतमंद रह सकते हैं। अगर आपका बच्चा दुबला-पतला है और खाने में नखरे करता है, तो आप उसे अंजीर का जैम बनाकर दें या अंजीर की कैंडी बनाकर दें। ऐसा करने से बच्चों को इसका खट्टा-मीठा स्वाद बहुत भायेगा और वे भी अंजीर के फायदे उठा पाएंगे।

गर्भवती महिलाओं के लिए लाभदायक है अंजीर

गर्भवती औरतों को अपने खान-पान में सूखे मेवों के साथ अंजीर का भी उपयोग करना चाहिए। यह उन्हें प्रेगनेंसी के दौरान सामान्यतः होने वाली बीमारी एनीमिया यानी खून की कमी से निजात दिला सकता है। क्योंकि अंजीर आयरन का ख़ज़ाना है और इससे मांसपेशियों की थकावट भी दूर होती है। कई महिलाओं को ऐसे समय में गैस, बदहज़मी और कब्ज की समस्या होती है, तो उन्हें खाने-पीने में दिक़्क़त आती है। इससे छुटकारा पाने के लिए उन्हें अंजीर को कुनकुने दूध के साथ खाना चाहिए। जैसा कि हमने बताया कि अंजीर में डाएटरी फाइबर होता है, तो ये कब्ज़ की समस्या से राहत दिलाता है। पेट-सम्बन्धी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए पुरुषों को भी इसका सेवन करना चाहिए।

यह भी पढ़ें – भोजन संबंधी अच्छी आदतें

अस्थमा के रोगियों के लिए लाभकारी है अंजीर

अक्सर सर्दी के मौसम में अस्थमा (दमा) या साँस की परेशानी हो जाती है। यह तब होता है जब शरीर में बलगम अधिक जमा हो जाये। आयुर्वेद के मतानुसार अंजीर हमारे शरीर के तीनों दोषों–वात, कफ व पित्त–को संतुलित करने में सहायक है। इसलिए अगर आपको भी सर्दियों में खांसी, बलगम या अस्थमा की परेशानी होती है तो अंजीर का फल रोज़ खाएँ। इसका सूखा फल ज्यादा फायदेमंद है। यह शरीर को गरमी भी देता है। आप इसे सुबह-शाम दूध के साथ ले सकते हैं। साथ ही इसे छोटे बच्चों को भी दे सकते है। इसे रात को भिगोने के बाद सुबह पानी में उबालकर खाने से कफ़ निकल जाता है। खाँसी और सर्दी में भी अंजीर खाने से लाभ होगा।

कमर-दर्द से राहत दिलाता है अंजीर

अदरक की सूखी गाँठ–जिसे सौंठ भी कहते है–को अंजीर की सूखी छाल और साबुत धनिया के साथ एक बराबर मात्रा में बारीक चूर्ण में पीस कर रख लें। इसे रात को पानी में भिगोकर रहने दें। सुबह कपड़छान करके रोगी को पीने के लिए दें। कुछ दिन तक नियमित सेवन करने से लाभ होगा।

बुखार में अंजीर फ़ायदेमंद

सामान्यतः बुख़ार में अंजीर खाने से लाभ मिलता है। इसकी रोग-प्रतिरोधक शक्ति शरीर को रोगों से लड़ने की ताक़त देती है। एक ताज़ा अंजीर रोगी को सुबह-शाम खाने को दे। दो-चार दिनों में ही बुखार उतर जाएगा और शरीर में स्फूर्ति आएगी।

अंजीर के ये तमाम फायदे तो हैं ही, साथ ही इसका सेवन लड़कियों को मासिक धर्म में होने वाले कमर दर्द, पेट दर्द या रक्ताल्पता (खून की कमी) को दूर करता है। अगर आप नियमित रूप से अंजीर को अपने भोजन में शामिल करेंगे, तो आपके शरीर में लौह तत्व की कमी कभी नहीं होगी और आपकी रोग प्रतिरोधक शक्ति भी बढ़ेगी। कुछ शोधों से पता चला है कि अंजीर खाने से स्त्रियों में ब्रेस्ट कैंसर जैसी घातक बीमारियों के ख़तरे भी कम होते हैं। इसमें एंटीओक्सिडेंट भी होते हैं, क्योंकि इसके बीजों में म्यूसिन नामक तत्व पाया जाता है। जिससे पेट की सफाई हो जाती है और हानिकारक तत्व शरीर से बाहर निकालने में मदद मिलती है।

यह भी पढ़ें – मेथी के फायदे

तो सोच क्या रहे हैं? आज से ही अपने भोजन में अंजीर का सेवन शुरू कर दीजिये और अंजीर के फायदे महसूस करें।

Hume aasha hai ki Anjeer Ke Fayde padhkar aap iska upyog karenge aur khud ko sehatmand banaenge. Thank you for reading this article.

ममता रैना

ममता रैना दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक हैं। वे सात वर्षों से लेखन के क्षेत्र में सक्रिय हैं तथा उनके लेख विभिन्न पत्र-पत्रिकाओं में प्रकाशित होते रहते हैं। ममता का मानना है कि एक अच्छा लेखक होने के लिए अच्छा पाठक होना बेहद ज़रूरी है। साथ ही वे लेखन के लिए अपने आस-पास हो रही घटनाओं के प्रति संवेदनशीलता को आवश्यक मानती हैं। वे हिंदीपथ.कॉम पर लगातार सक्रिय हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: यह सामग्री सुरक्षित है !!