महाभारत कथा – Mahabharat Katha In Hindi

महाभारत हिंदू धर्म का एक महान रत्न है। भगवान वेदव्यास स्वयं कहते हैं कि “महाभारत कथा (Mahabharat Katha) में मैंने वेदों के रहस्य और विस्तार, उपनिषदों के सम्पूर्ण सार, इतिहास-पुराणों के उन्मेष और निमेष, चातुर्वर्ण्य के विधान, पुराणों के आशय, ग्रह-नक्षत्र-तारा आदि के परिमाण, न्याय, शिक्षा, चिकित्सा, दान, पाशुपत (अन्तर्यामी की महिमा), तीर्थों, पुण्य देशों, नदियों, पर्वतों, वनों तथा समुद्रों का भी वर्णन किया गया है।” यह महाभारत (Mahabharat) महाकाव्य ज्ञान, कर्म, भक्ति और योग की शिक्षाओं से परिपूर्ण है। पढ़ें संपूर्ण महाभारत की कथा हिंदी में (Mahabharat in Hindi) पहली बार इंटरनेट पर–

1. महाभारत का आदिपर्व

  1. अनुक्रमणिका पर्व
  2. पर्वसंग्रह पर्व
  3. पौष्य पर्व
  4. पौलोम पर्व
  5. आस्तीक पर्व
  6. अंशावतार पर्व
  7. संभाव पर्व
  8. जतुगृह पर्व
  9. हिडिम्बवध पर्व
  10. बकवध पर्व
  11. चैत्ररथ पर्व
  12. स्वयंवर पर्व
  13. वैवाहिक पर्व
  14. विदुरागमन राज्यलम्भ पर्व
  15. अर्जुनवनवास पर्व
  16. सुभद्राहरण पर्व
  17. हरणाहरण पर्व
  18. खाण्डवदाह पर्व
  19. मयदर्शन पर्व

2. सभापर्व

  1. सभाक्रिया पर्व
  2. लोकपालसभाख्यान पर्व
  3. राजसूयारम्भ पर्व
  4. जरासन्धवध पर्व
  5. दिग्विजय पर्व 
  6. राजसूय पर्व
  7. अर्घाभिहरण पर्व
  8. शिशुपालवध पर्व
  9. द्यूत पर्व
  10. अनुद्यूत पर्व

3. अरण्यकपर्व

  1. अरण्य पर्व
  2. किर्मीरवध पर्व
  3. अर्जुनाभिगमन पर्व
  4. कैरात पर्व
  5. इन्द्रलोकाभिगमन पर्व
  6. नलोपाख्यान पर्व
  7. तीर्थयात्रा पर्व
  8. जटासुरवध पर्व
  9. यक्षयुद्ध पर्व
  10. निवातकवचयुद्ध पर्व
  11. अजगरपर्व
  12. मार्कण्डेयसमस्या पर्व 
  13. द्रौपदीसत्यभामा पर्व
  14. घोषयात्रा पर्व
  15. मृगस्वप्नोद्भव पर्व
  16. ब्रीहिद्रौणिक पर्व
  17. द्रौपदीहरण पर्व
  18. जयद्रथविमोक्ष पर्व
  19. रामोपाख्यान पर्व
  20. पतिव्रतामाहात्म्य पर्व
  21. कुण्डलाहरण पर्व
  22. आरणेय पर्व

4. विराटपर्व

  1. पाण्डवप्रवेश पर्व
  2. समयपालन पर्व
  3. कीचक वध पर्व
  4. गोहरण पर्व
  5. वैवाहिक पर्व

5. उद्योगपर्व

  1. सेनोद्योग पर्व
  2. संजययान पर्व
  3. प्रजागर पर्व
  4. सनत्सुजात पर्व
  5. यानसन्धि पर्व
  6. भगवद्-यान पर्व
  7. सैन्यनिर्याण पर्व
  8. उलूकदूतागमन पर्व
  9. रथातिरथसंख्या पर्व
  10. अम्बोपाख्यान पर्व

6. भीष्मपर्व

  1. जम्बूखण्डविनिर्माण पर्व
  2. भूमि पर्व
  3. श्रीमद्भगवद्गीता पर्व
  4. भीष्मवध पर्व

7. द्रोणपर्व

  1. द्रोणाभिषेक पर्व
  2. संशप्तकवध पर्व
  3. अभिमन्यु वध पर्व
  4. प्रतिज्ञा पर्व
  5. जयद्रथ वध पर्व
  6. घटोत्कच वध पर्व
  7. द्रोणवध पर्व
  8. नारायणास्त्रमोक्ष पर्व

8. कर्णपर्व

  1. कर्णपर्व

9. शल्यपर्व

  1. ह्रदप्रवेश पर्व
  2. गदा पर्व

10. सौप्तिकपर्व

  1. ऐषीक पर्व

11. स्त्रीपर्व

  1. जलप्रादानिक पर्व
  2. विलाप पर्व
  3. श्राद्ध पर्व

12. शांतिपर्व

  1. राजधर्मानुशासन पर्व
  2. आपद्धर्म पर्व
  3. मोक्षधर्म पर्व

13. अनुशासनपर्व

  1. दान-धर्म-पर्व
  2. भीष्मस्वर्गारोहण पर्व

14. अश्वमेधिकापर्व

  1. अश्वमेध पर्व
  2. अनुगीता पर
  3. वैष्णव पर्व

15. आश्रम्वासिकापर्व

  1. आश्रमवास पर्व
  2. पुत्रदर्शन पर्व
  3. नारदागमन पर्व

16. मौसुलपर्व

  1. मौसुलपर्व

17. महाप्रस्थानिकपर्व

  1. महाप्रस्थानिकपर्व

18. स्वर्गारोहणपर्व

  1. स्वर्गारोहणपर्व

19. हरिवंशपर्व (खिलभाग)

  1. विष्णुपर्व
  2. भविष्यपर्व

भारतीय संस्कृत साहित्य के दो महान महाकाव्य रामायण और महाभारत कथाओं, धर्म और दर्शन शास्त्र से परिपूर्ण हैं। महाभारत का सम्मान तो समस्त विश्व में वेदों की तरह है। ऐसा कोई विषय नहीं, जिसे महाभारत में न छुआ गया हो। हमारा प्रयत्न है कि शीघ्र-से-शीघ्र संपूर्ण महाभारत की कथा को हम आपके सम्मुख प्रस्तुत कर सकें। जैसे-जैसे इसके पर्व हम प्रकाशित करते जाएंगे, आप उन्हें यहाँ पढ़ सकेंगे।

2 thoughts on “महाभारत कथा – Mahabharat Katha In Hindi

  • July 31, 2021 at 10:05 am
    Permalink

    महाभारत कथा में केवल अध्याय के नाम दिख रहे है। कथा नही है।कृपया पूर्ण कथा उपलब्ध कराए।

    Reply
    • September 20, 2021 at 1:02 pm
      Permalink

      भूपेश जी, टिप्पणी करने के लिए बहुत-बहुत धन्यवाद। महाभारत पर तीव्र गति से कार्य चल रहा है और शीघ्र ही संपूर्ण महाभारत की कथा आप यहाँ हिंदी में पढ़ सकेंगे। इसी तरह हिंदी पथ पढ़ते रहें और हमारा मार्गदर्शन करते रहें।

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: यह सामग्री सुरक्षित है !!