श्याम तेरी बंसी पुकारे राधा नाम – राधा-कृष्ण भजन

श्याम तेरी बंसी पुकारे राधा नाम बहुत ही मनमोहक भजन हैं। इसके बोल जी को चुरा लेते हैं और हृदय में प्रेम का प्रकटीकरण स्वतः ही हो जाता है। पढ़ें यह अद्भुत भजन–

“श्याम तेरी बंसी पुकारे राधा नाम” भजन

श्याम तेरी बंसी पुकारे राधा नाम…

श्याम तेरी बंसी पुकारे राधा नाम
लोग करें मीरा को यूँ ही बदनाम

श्याम तेरी बंसी पुकारे राधा नाम
श्याम तेरी बंसी पुकारे राधा नाम
लोग करें मीरा को यूँ ही बदनाम
लोग करें मीरा को यूँ ही बदनाम

साँवरे की बंसी को बजने से काम
साँवरे की बंसी को बजने से काम
राधा का भी श्याम वो तो मीरा का भी श्याम
राधा का भी श्याम वो तो मीरा का भी श्याम

जमुना की लहरें बंसीबट की छैया
किसका नहीं है कहो कृष्ण कन्हैया
जमुना की लहरें बंसीबट की छैया
किसका नहीं है कहो कृष्ण कन्हैया
श्याम का दीवाना तो सारा बृज धाम
श्याम का दीवाना तो सारा बृज धाम
लोग करें मीरा को यूँ ही बदनाम

साँवरे की बंसी को बजने से काम
साँवरे की बंसी को बजने से काम
राधा का भी श्याम वो तो मीरा का भी श्याम
राधा का भी श्याम वो तो मीरा का भी श्याम

ओ.. कौन जाने बांसुरिया किसको बुलाए
जिसके मन भाए ये उसी के गुण गाए

कौन जाने बांसुरिया किसको बुलाए
जिसके मन भाए वो उसी के गुण गाए
कौन नहीं कौन नहीं बंसी की धुन का ग़ुलाम
राधा का भी श्याम हो तो मीरा का भी श्याम

श्याम तेरी बंसी पुकारे राधा नाम
श्याम तेरी बंसी, कन्हैया तेरी बंसी पुकारे राधा नाम
लोग करें मीरा को यूँ ही बदनाम
राधा का भी श्याम वो तो मीरा का भी श्याम
राधा का भी श्याम वो तो मीरा का भी श्याम

विदेशों में बसे कुछ हिंदू स्वजनों के आग्रह पर यह मधुर भजन को हम रोमन में भी प्रस्तुत कर रहे हैं। हमें आशा है कि वे इससे अवश्य लाभान्वित होंगे। पढ़ें यह भजन रोमन में–

Shyam Teri Bansi Pukare Radha Naam Lyrics in Hindi

śyāma terī baṃsī pukāre rādhā nāma…

śyāma terī baṃsī pukāre rādhā nāma
loga kareṃ mīrā ko yū~ hī badanāma

śyāma terī baṃsī pukāre rādhā nāma
śyāma terī baṃsī pukāre rādhā nāma
loga kareṃ mīrā ko yū~ hī badanāma
loga kareṃ mīrā ko yū~ hī badanāma

sā~vare kī baṃsī ko bajane se kāma
sā~vare kī baṃsī ko bajane se kāma
rādhā kā bhī śyāma vo to mīrā kā bhī śyāma
rādhā kā bhī śyāma vo to mīrā kā bhī śyāma

jamunā kī lahareṃ baṃsībaṭa kī chaiyā
kisakā nahīṃ hai kaho kṛṣṇa kanhaiyā
jamunā kī lahareṃ baṃsībaṭa kī chaiyā
kisakā nahīṃ hai kaho kṛṣṇa kanhaiyā
śyāma kā dīvānā to sārā bṛja dhāma
śyāma kā dīvānā to sārā bṛja dhāma
loga kareṃ mīrā ko yū~ hī badanāma

sā~vare kī baṃsī ko bajane se kāma
sā~vare kī baṃsī ko bajane se kāma
rādhā kā bhī śyāma vo to mīrā kā bhī śyāma
rādhā kā bhī śyāma vo to mīrā kā bhī śyāma

o.. kauna jāne bāṃsuriyā kisako bulāe
jisake mana bhāe ye usī ke guṇa gāe

kauna jāne bāṃsuriyā kisako bulāe
jisake mana bhāe vo usī ke guṇa gāe
kauna nahīṃ kauna nahīṃ baṃsī kī dhuna kā ग़ulāma
rādhā kā bhī śyāma ho to mīrā kā bhī śyāma

śyāma terī baṃsī pukāre rādhā nāma
śyāma terī baṃsī, kanhaiyā terī baṃsī pukāre rādhā nāma
loga kareṃ mīrā ko yū~ hī badanāma
rādhā kā bhī śyāma vo to mīrā kā bhī śyāma
rādhā kā bhī śyāma vo to mīrā kā bhī śyāma

यह भी पढ़ें

कृष्ण अमृतवाणीप्रेम मंदिरबालकृष्ण की आरतीसंतान गोपाल मंत्रसंतान गोपाल स्तोत्रजन्माष्टमी पूजा और विधिलड्डू गोपाल की आरतीगिरिराज की आरतीगोपाल चालीसाकृष्ण चालीसा आएंगे बिहारीबजाओ राधा नाम की तालीअरे द्वारपालों कन्हैया से कह दोश्याम तेरी बंसी पुकारे राधा नाम किशोरी कुछ ऐसा इंतजाम हो जाएछोटी छोटी गईया छोटे छोटे ग्वालगोविंद बोलो हरि गोपाल बोलोमेरा आपकी कृपा से सब काम हो रहा हैमेरे बांके बिहारी लालओ कान्हा अब तो मुरली कीभर दे रे श्याम झोली भरदेमैं हूं शरण में तेरी संसार के रचैयाकन्हैया कन्हैया पुकारा करेंगेश्री कृष्ण गोविंद हरे मुरारीराधा कृपा कटाक्ष स्तोत्रप्रेम मंदिर, वृंदावनकृष्ण है विस्तार यदि तोआरती कुंज बिहारी कीकृष्ण भगवान की आरतीमुकुंदा मुकुंदा कृष्णा मुकुंदा मुकुंदासजा दो घर को गुलशन सा मेरे सरकार आए हैंलल्ला की सुन के मैं आईनंद के आनंद भयो जय कन्हैया लाल कीमेरे कान्हाराधे किशोरी दया करोकृष्णा मनमोहना मोरे कान्हा मोरे कृष्णा

सन्दीप शाह

सन्दीप शाह दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक हैं। वे तकनीक के माध्यम से हिंदी के प्रचार-प्रसार को लेकर कार्यरत हैं। बचपन से ही जिज्ञासु प्रकृति के रहे सन्दीप तकनीक के नए आयामों को समझने और उनके व्यावहारिक उपयोग को लेकर सदैव उत्सुक रहते हैं। हिंदीपथ के साथ जुड़कर वे तकनीक के माध्यम से हिंदी की उत्तम सामग्री को लोगों तक पहुँचाने के काम में लगे हुए हैं। संदीप का मानना है कि नए माध्यम ही हमें अपनी विरासत के प्रसार में सहायता पहुँचा सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: यह सामग्री सुरक्षित है !!